कांग्रेस राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह ने प्रधानमंत्री मोदी से पूछा- आप परजीवी हैं या भाषणजीवी,तंज कसते हुए एक वीडियो भी शेयर किया

भोपाल। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा मंगलवार को राज्यसभा में दिये गए गयान को लेकर कांग्रेस हमलावर हो गई है। उनके इस बयान की निंदा करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजयसिंह ने उनसे पूछा है कि मोदी जी आप क्या हैं? परजीवी, भाषणजीवी, आंदोलनजीवी स्वजीवी? इधर, प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास …

कांग्रेस राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह ने प्रधानमंत्री मोदी से पूछा- आप परजीवी हैं या भाषणजीवी,तंज कसते हुए एक वीडियो भी शेयर किया Read More »

February 10, 2021 3:01 pm

भोपाल। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा मंगलवार को राज्यसभा में दिये गए गयान को लेकर कांग्रेस हमलावर हो गई है। उनके इस बयान की निंदा करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजयसिंह ने उनसे पूछा है कि मोदी जी आप क्या हैं? परजीवी, भाषणजीवी, आंदोलनजीवी स्वजीवी? इधर, प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने दिग्विजय के बयान की कड़ी आलोचना की है।

https://www.facebook.com/603089303044139/posts/4198256703527363/

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी पर इशारों ही इशारों में तंज कसा है। उन्होंने तंज कसते हुए एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें भाजपा के कई वर्तमान नेताओं के पूर्व में किए गए आंदोलन की तस्वीरें बताई गई है। दिग्विजयसिंह ने उन्होंने बुधवार को सुबह किए ट्वीट में कहा है कि जब भगतसिंह जैसे युवा फांसी चढ़ रहे थे, तब गुरु गोलवलकर ने भी अपने स्वयंसेवकों से कहा था, ‘आंदोलनजीवी ‘पागलों’ की टोली से दूर रहें। आंदोलनजीवियों ने फिर भी देश आजाद करा लिया। दिग्विजय ने इसके लिए हैशटेग भी दिया #आंदोलनजीवी vs #भाषणबाजी।

इधर, दिग्विजयसिंह के इस बयान के बाद प्रदेश में सियासत गर्मा गई है। प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी दिग्विजय सिंह के बयान को शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी को खुश करने के लिए अनर्गल बयानबाजी करते रहते हैं। वे अपनी मानसिकता खो चुके हैं। वहीं, गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने भी कहा कि कांग्रेस नेता अब अपना जनाधार खोते जा रहे हैं। वे ट्वीटर, टीवी और पेपर तक ही सीमित रह गए हैं।

Prev Post

टोंक में तेज़ रफ़्तार ट्रेक्टर ने दो मासूमों को कुचला, ट्यूशन को जा रहे थे भाई बहन की मौत, चाचा घायल

Next Post

राजस्थान में अब इन अधिकारियों को गृह जिले में नही मिलेगी फील्ड पोस्टिंग

Related Post

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know