झाड़-फूंक के नाम पर देह व्यापार व मादक पदार्थों की बिक्री चरम पर

लखनऊ/ उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में झाड़-फूंक के नाम पर अपनी दुकान चलाने वाले और खुद को तांत्रिक व मजार से जुड़ा बाबा बताने वालों की संख्या वृद्धि हुई है। यह लोग झाड़-फूंक के नाम पर देह व्यापार, नशे का कारोबार जैसे अवैध कारोबार को जोर शोर से कर रहे हैं। लखनऊ के ठाकुरगंज …

झाड़-फूंक के नाम पर देह व्यापार व मादक पदार्थों की बिक्री चरम पर Read More »

October 26, 2020 2:01 pm

लखनऊ/ उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में झाड़-फूंक के नाम पर अपनी दुकान चलाने वाले और खुद को तांत्रिक व मजार से जुड़ा बाबा बताने वालों की संख्या वृद्धि हुई है। यह लोग झाड़-फूंक के नाम पर देह व्यापार, नशे का कारोबार जैसे अवैध कारोबार को जोर शोर से कर रहे हैं।

लखनऊ के ठाकुरगंज में काले बाबा के पकड़े जाने के बाद विभिन्न मजारों से जुड़े बाबाओं में खौफ का आलम है। बच्चा पैदा करने के योग्य बनाने के नाम पर महिलाओं को देह व्यापार में धकेलने वाले बाबाओं पर अब लखनऊ पुलिस की तीखी नजर है। लखनऊ के त्रिवेणी नगर, चिनहट और आईआईएम रोड में कुछ बाबा चिन्हित भी किए गए हैं।

लखनऊ की तरह ही प्रदेश के अलग-अलग जनपदों में अवैध कारोबार को जोर देने वाले पाखंडी बाबाओं की भरमार हैं। वाराणसी जैसे धार्मिक स्थल पर ऐसे बाबाओं की भरमार है जो अवैध नशे के कारोबार को तंत्र मंत्र के माध्यम से कर रहे हैं। वाराणसी के जतपुुरा का रहने वाले संतोष नामक व्यक्ति की शिकायत पिछले दिनों वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय वाराणसी में की गई थी, लेकिन उसके विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। उस व्यक्ति पर झाड़-फूंक तंत्र विद्या के नाम पर नशीली दवाएं बेचने का आरोप एक समाजसेवी ने लगाया था। वाराणसी में घाट किनारे रहने वाले बहुत सारे फर्जी तांत्रिकों एवं बाबाओं द्वारा भी इस तरह के नशीले पदार्थ बेचने की शिकायत अक्सर सामने आती रही है।

बागपत और शामली जिले में बाजार से जुड़े बाबाओं द्वारा झाड़-फूंक के नाम पर महिलाओं को नशीले पदार्थ खिलाकर उनके साथ दुष्कर्म की घटनाएं भी सामने आ चुकी हैं। ऐसी घटनाएं सिर्फ दो जिलों में ही नहीं पूरे प्रदेश में कहीं ना कहीं सुनने में आती ही रहती हैं।

विदित है कि तंत्र मंत्र जादू टोना के चक्कर में पड़कर लोग अपने घर परिवार सहित आसपास के क्षेत्र का भी माहौल खराब कर बैठते हैं। इसके विपरीत अभियान चलाकर लोगों को जागरूक करने वाले तमाम सामाजिक संगठन भी सक्रिय हैं लेकिन वह पूरी तरह सफल नहीं हो पा रहे हैं।

Prev Post

पंजाब-छत्तीसगढ़ के बाद केंद्र के कृषि कानून पर गहलोत का राजपाल से बढ़ सकता है मनमुटाव

Next Post

भीलवाड़ा मे पथिक नगर माहेश्वरी संस्थान के भवन का किया वर्चुअल शिलान्यास समाज की विभिन्न गतिविधियों में काम आए भवन -सोनी

Related Post

Latest News

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की
माफी तो मांगी,लेकिन वायरल पन्ना बता रहा है कि सचिन पायलट और प्रभारी अजय माकन निशाने पर थे
PFI का सपोर्ट करने पर पाक सरकार का ट्विटर अकाउंट पर प्रतिबंध

Trending News

कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान

Top News

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की
पूर्व मंत्री और NCP नेता भुजबल का दुबई कनेक्शन का आरोप, FIR दर्ज
नामदेव छीपा समाज के त्रिदिवसीय गरबा महोत्सव झंकार का समापन, महिला मण्डल की कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण
माफी तो मांगी,लेकिन वायरल पन्ना बता रहा है कि सचिन पायलट और प्रभारी अजय माकन निशाने पर थे
PFI का सपोर्ट करने पर पाक सरकार का ट्विटर अकाउंट पर प्रतिबंध
कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव के बाद अब सलमान खान के डुप्लीकेट संजय की जिम में एक्सरसाइज के दौरान मौत
कोतवाली पुलिस कहिन रिपोर्ट दर्ज होने के बाद बता दिया जाएगा, बुजुर्ग महिला से लूट का प्रयास विफल ,लोगों ने युवक को पकड़ा ,VIDEO
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
भीलवाड़ा शहर में 2 साल बाद 5 अक्टूबर को निकलेगा विशाल पथ संचलन
राजस्थान शिक्षा विभाग- राजस्थान में सरकारी स्कूलों का समय परिवर्तन 15 से बदलेगा