India gives a blow to Pakistan, refuses to play Asia Cup cricket in Pakistan,
दिल्ली देश

भारत ने पाक को दिया झटका एशिया कप क्रिकेट पाक में खेलने से इनकार, पाक ने दी वर्ल्ड कप नही खेलने की गीदड़ भभकी

नई दिल्ली/ अगले वर्ष पाकिस्तान मैं होने वाले एशिया कप क्रिकेट प्रतियोगिता में भारत में पाकिस्तान में खेलने से इंकार कर पाकिस्तान को करारा झटका दिया है भारत के इस झटके के जवाब में पाकिस्तान ने गीदड़ भभकी देते हुए अगले साल भारत में होने वाले वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की टीम नई भेजने की गीदड़ भभकी दी है लेकिन पाकिस्तान की इस गीदड़ भभकी का कोई असर नहीं पड़ने वाला है क्योंकि दुनिया का सबसे धनाढ्य क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई जो कि भारत का है आइए जानते हैं पाकिस्तान की गीदड़ भभकी कितनी कारगर होगी या नहीं और क्या थे पाकिस्तान के मंसूबे।

एशियन क्रिकेट काउंसिल(ACC)और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) के सचिव जय शाह ने काहे की अगले साल जुलाई-अगस्त में पाकिस्तान में होने वाले एशिया कप में भारतीय टीम इस क्रिकेट प्रतियोगिता का हिस्सा नहीं बनेगी प्रताप भारतीय क्रिकेट टीम पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी इस पर इस टूर्नामेंट को पाकिस्तान से बाहर किसी अन्य देश में शिफ्ट किया जाए अगले साल होने वाले एशिया कप की मेजबानी पाकिस्तान को मिली थी ।

जय शाह ने यह बयान देकर पाकिस्तान को करारा झटका देने के साथ ही उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया है एशिया कप क्रिकेट प्रतियोगिता के माध्यम से पाकिस्तान 15 साल बाद अपने घर में भारत की मेजबानी करने के सपने देखने के साथ ही इस आशा से उम्मीद लगाए बैठा था कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड इस प्रतियोगिता से अच्छी खासी आमदनी कर लेगा और इसके साथ ही पाकिस्तान पर लगे आरोप कि पाकिस्तान खतरनाक देश है को भी मिटाने का सपना देखा था ।

जय शाह के इस बयान और निर्णय के बाद पलटवार करते हुए पाकिस्तान ने अपनी चिर परिचित आदत के अनुसार धमकी दी है कि अगर भारत एशिया कप के लिए टीम नहीं भेजता है तो अगले साल 2023 के अक्टूबर नवंबर में भारत में होने वाले विश्व कप क्रिकेट प्रतियोगिता में पाकिस्तान अपनी टीम भारत में नहीं भेजेंगे।

भारतीय टीम अगर सुरक्षा कारणों का हवाला देकर पाकिस्तान जाने से मना करती है तो दुनिया का कोई भी देश भारत के इस फैसले पर सवाल खड़ा नहीं कर सकता भले ही पाकिस्तान ने हाल फिलहाल ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसी टीम की मेजबानी की लेकिन वहां के ऐसे हालात दुनिया में किसी से छिपे नहीं है।

पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय आतंकवादियों की जन्म स्थली और सनी स्पेलिंग माना जाता है इंग्लैंड ने भी कई बार पाकिस्तान का दौरा रद्द किया था न्यूजीलैंड ने तो पाकिस्तान में वनडे में शुरू होने के करीब एक घंटा पहले सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए एन वक्त पर दौरा रद्द कर दिया था और भारत तो आसानी से पाकिस्तान में सुरक्षा संबंधी खतरों को साबित कर सकता है क्योंकि भारत के पास पाकिस्तान के लिए काफी सबूत है पाकिस्तान तो आज भी कश्मीर में लगा था आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है।

पाक के विश्व कप नही खेलने से प्रतियोगिता पर कोई फर्क …

पाकिस्तान ने जैसे धमकी दी है कि अगर वह भारत में होने वाले विश्वकप क्रिकेट प्रतियोगिता में भारत ने अपनी क्रिकेट टीम नहीं भेजेगा अर्थात हमें विश्वकप में नहीं खेलेगा तो इससे इस विश्वकप प्रतियोगिता में पाकिस्तान के नहीं खेलने से आर्थिक रूप से कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि क्रिकेट फाइनेंस मैं भारत ग्लोबल आय मे 80% भागिदारी दाता है और पाक केवल 5% ही । इसलिए विश्वकप नहीं खेलने से उल्टा पाकिस्तान को आर्थिक नुकसान होगा भारत को कोई नुकसान नहीं होगा।

एशियन क्रिकेट काउंसिल में अभी भारतीय क्रिकेट प्रेसिडेंट है और इसके अलावा इस काउंसिल में जितने भी सदस्य हैं उनमें से कोई भी भारत एशिया कप नहीं खेलने के दिल्ली के खिलाफ नहीं जाएगा और पाकिस्तान का साथ नहीं देगा ऐसी स्थिति में भारत के दिन एशिया कप होना संभव नहीं है।

आने वाली क्रिकेट प्रतियोगिताएं

1– 2032- जुलाई-अगस्त एशिया कप पाकिस्तान मे
2– 2023- अक्टूबर-नवंबर विश्वकप क्रिकेट प्रतियोगिता भारत मे
3– 2025- आईसीसी चैम्पियनशिप ट्राफी पाकिस्तान मे
4– 2026- T-20 क्रिकेट विश्वकप भारत और श्रीलंका मे
5– 2029- चैम्पियनशिप ट्राफी भारत मे
6– 2031 वन-डे विश्वकप भारत और बांग्लादेश मे

दुनिया के क्रिकेट बोर्ड की आर्थिक स्थिति

1- भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) कीमत, 18.011.84 करोड
2- आस्ट्रलिया(CA) कीमत 2843 करोड
3- इंग्लैंड(ECB) कीमत 2135 करोड
4- पाकिस्तान (PCB)कीमत 811 करोड
5- बांग्लादेश (BCB)कीमत 802 करोड
6- साउथ अफ्रीका(CSA)कीमत 613 करोड
7- जिम्बाब्वे (ZCB) कीमत 295 करोड
8- श्रीलंका((SLC) कीमत 155 करोड
9- वेस्टइंडीज (WICB)कीमत 120 करोड
10- न्यूजीलैंड (NZC) कीमत 70 करोड ( सभी आय अनुमानित है)

पाक क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई के सामे आर्थिक मामले मे कहीं नही टिकता है ।पाक ही नही श्रीलंका ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड साउथ अफ्रीका वेस्टइंडीज बांग्लादेश जिंबाब्वे सही सभी क्रिकेट खेलने वाले देश क्रिकेट के जरिए मोटी कमाई के लिए भारत और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) पर निर्भर रहते हैं भारतीय टीम के एक दौरे से वे इतनी कमाई कर लेते हैं जितनी में अन्य देशों की क्रिकेट टीमों के दौरे से दो-तीन साल में होती है इसलिए अगर पीसीबी इस मसले को आईसीसी की राजनीति में मिलने जाता है तो किसी भी अन्य देश के क्रिकेट बोर्ड का सहयोग नहीं मिलेगा और उल्टा आईसीसी प्रतियोगिता के बहिष्कार की वजह से उस पर प्रतिबंध लगने का खतरा भी मंडराने लगेगा ।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम