गाय के गोबर व मुल्तानी मिट्टी से मूर्ति व दीये दीपाली पर मचायेंगे धमाल

 दीपावली का पर्व नजदीक आते ही चाइनीज वस्तुओं का बहिष्कार करने के लिए गाय के गोबर व मुल्तानी मिट्टी से मूर्ती व दिए बनाये जाने का कार्य तेज गति से शुरू है।
 जनपद के अछल्दा ब्लाक के ग्राम पंचायत औतो में गाय के गोबर से दिए और मूर्ति बनाने की मुहिम को आंगनवाड़ी कार्यकत्री सुमन चतुर्वेदी समाजसेविका ने शुरू किया है। गाय के गोबर को सुखाकर छानकर पीसकर पाउडर और मुल्तानी मिट्टी मिलाकर दिए और मूर्ति बनाए जाने का कार्य चल रहा है। उनका कहना है कि चाइना की वस्तुओं का बहिष्कार करने के लिए यह सबसे अच्छा उपयोगी तरीका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने का जो सपना है, उसे यह पूरा करेगा।
  सुमन चतुर्वेदी ने बताया कि वह इस मुहिम से पूरा होगा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गौ रक्षा का संकल्प भी इस मुहिम से पूरा हो सकता है। प्रत्येक महिला जिले में इस मुहिम से जुड़ सकती हैं और अपने घर पर आत्मनिर्भर बनने के लिए यह कार्य कर सकती हैं। गाय के गोबर से बने दीयों को और मूर्ति को अपने घर में ले जाएं और चाइना की वस्तुओं का विरोध कर स्वदेशी बने।