दो सालों में टोल प्लाजा होंगे बैरियर मुक्त, नही पडेगा अब रूकना

dainik reporters news

नई दिल्ली/ देश में राष्ट्रीय राजमार्गों पर आगामी 2 सालों में सभी टोल प्लाजा ओं को बैरियर मुक्त  कर दिया जाएगा अर्थात इन टोल प्लाजा ऊपर अब वाहनों को रोकने की जरूरत नहीं पड़ेगी जीपीएस सिस्टम से टोल का भुगतान होगा कद प्रकार का मानना है कि इससे आगामी 5 सालों में टोल प्लाजा से करीब 1.34हज़ार करोड़ की आय होगी।

भारत में वाहनों की स्वतंत्र आवाजाही के लिए केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ा ऐलान किया है। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक, अब देशभर में नेशनल हाईवे पर सफर करते समय वाहन चालकों को बार-बार टोल प्लाजा पर रूकना नहीं पड़ेगा। जी हां, नितिन गडकरी के अनुसार आने वाले दो सालों में भारत को टोल बैरियर से मुक्त बना दिया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसके लिए सरकार ने ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (GPS) को अंतिम रूप देने का फैसला लिया है। गडकरी के इस ऐलान के बाद यदि आप यदि सोच रहे हैं कि टोल प्लाजा हटने के बाद आपको टोल फीस भी नहीं देनी पड़ेगी तो ऐसा नहीं है। नेशनल हाईवे पर टोल प्लाजा सेंटर पर बार-बार रूकने की झंझट से बचने के लिए GPS टेक्नोलॉजी पर तेजी से काम चल रहा है और दो साल के अंदर देश के सभी टोल प्लाजा GPS टेक्नोलॉजी पर काम करने लगेंगे।

गडकरी ने सरकार के प्लान के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आने वाले दो सालों में वाहनों का टोल सिर्फ आपके लिंक्ड बैंक अकाउंट से ही काटा जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि रूस सरकार की मदद से हम जल्द ही GPS सिस्टम को फाइनलाइज्ड कर लेंगे, जिसके बाद दो सालों में भारत पूरी तरह से टोल बैरियर मुक्त हो जाएगा। नितिन गडकरी के अनुसार जीपीएस( GPS) टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने के बाद भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की टोल आय 5 साल में 1.34 ट्रिलियन तक बढ़ सकती है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कल सड़क परिवहन और राजमार्ग के सचिव और अध्यक्ष, NHAI की मौजूदगी में टोल कलेक्शन के लिए GPS टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके एक प्रस्तुति दी गई थी। उन्होंने कहा कि हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले पांच सालों में हमारी टोल आय 1,34,000 करोड़ रुपए होगी। इस समय देश में सभी कॉमर्शियल वाहन ट्रैंकिग सिस्टम से लैस हैं। वहीं, सरकार सभी पुराने वाहनों में भी GPS सिस्टम टेक्नोलॉजी लगाने के लिए तेजी से काम करेगी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार देश भर में वाहनों की स्वतंत्र आवाजाही बनाने के लिए यह खास कदम उठा रही है। उन्होंने बताया कि पिछले एक साल में केंद्र सरकार ने देश के सभी टोल प्लाजा पर  फास्ट टेग (FASTags) अनिवार्य कर दिया है। गडकरी ने कहा कि नेशनल हाईवे टोल प्लाजा पर फास्ट टेग की अनिवार्यता के बाद ईधन की खपत में आई है। इसके अलावा प्रदूषण पर भी काफी लगाम लगी है।