दिल्ली देश

टेलीविजन क्वीन एकता कपूर को फटकार, युवा पीढ़ी के दिमाग को कर रही दूषित- सुप्रीम कोर्ट 

नई दिल्ली/ बालाजी टेलीफिल्म की मालिक निर्माता-निर्देशक और टेलीविजन की रानी ( टी वी क्वीन) एकता कपूर को सुप्रीम कोर्ट में उनकी एक याचिका पर फटकार लगाते हुए कहा कि वह देश की युवा पीढ़ी के दिमाग को दूषित कर रही है क्यों ना उनके खिलाफ कुछ अर्थात एकता कपूर के खिलाफ कारवाई की जाए।

एकता कपूर वेब सीरीज XXX को लेकर उनके खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट के मामले में एकता कपूर ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी।

इस याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी और न्यायमूर्ति सीटी रवि कुमार की पीठ ने कहा कि आप इस देश के युवा पीढ़ी के दिमाग को दूषित कर रही है कुछ करना होगा यह सभी के लिए उपलब्ध है।

ओटीटी(ओवर द टाॅप)(OTT) सामग्री सभी के लिए उपलब्ध है और आप लोगों किस तरह का विकल्प दे रहे हैं ? इसके विपरीत आप युवाओं के दिमाग को दूषित कर रहे हैं ।

एकता कपूर की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि पटना उच्च न्यायालय के समक्ष एक याचिका दायर की गई थी लेकिन इस बात की कोई उम्मीद नहीं है कि मामला जल्दी सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा।

शीर्ष अदालत ने पहले भी इसी तरह के मामले में एकता कपूर को सरंक्षण दिया था। कपूर के वकील रोहतगी ने कोर्ट में पीठ को बताया कि सामग्री सदस्यता आधारित है और इस देश ने पसंद की स्वतंत्रता है।

एकता कपूर के वकील रोहतगी के इस जवाब पर सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने कहा कि हर बार जब आप इस अदालत की यात्रा करते हैं हम इसकी सराहना नहीं करते हैं हम इस तरह की याचिका दायर करने के लिए आप पर एक लागत अर्थात दंड लगा सकते हैं।

न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी और न्यायमूर्ति सीटी रवि कुमार की पीठ ने एकता कपूर के वरिष्ठ वकील रोहतगी से कहा कि कृपया इसे अपने मुवक्किल को बताएं सिर्फ इसलिए कि आप सेवाओं का वहन कर सकते हैं और किराए पर ले सकते हैं। यह अदालत उनके लिए नहीं है।

जिनके पास आवाज है कि अदालत उन लोगों के लिए काम करती है जिनके पास आवाज नहीं है जिन लोगों के पास हर तरह की सुविधाएं हैं अगर उन्हें न्याय नहीं मिल सकता है तो इस आम आदमी की स्थिति के बारे में सोचें हमने आदेश देखा है और हमें अपना आरक्षण है।

पीठ ने देखा है शीर्ष अदालत ने मामले को लंबित रखा और सुझाव दिया कि उच्च न्यायालय में सुनवाई की स्थिति के बारे में जानने के लिए एक स्थानीय वकील को काम पर लगाया जा सकता है।

विदित है की पूर्व सैनिक शंभू कुमार ने एकता कपूर की वेब सीरीज XXX -2 मैं एक सैनिक की पत्नी से जुड़े कई आपत्तिजनक दृश्य दिखाए थे इसको लेकर मामला दर्ज कराया था और बिहार के बेगूसराय की एक निचली अदालत ने पूर्व सैनिक शंभू कुमार की शिकायत पर एकता कपूर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था।

इसके खिलाफ एकता कपूर इस वारंट को चुनौती देते हुए पटना हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की थी लेकिन इस याचिका पर सुनवाई जल्दी नहीं होने पर एकता कपूर ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम