अब आमजन को रसोई गैस सिलेंडर मिलेगा 587 रूपए में, मोदी सरकार की..

File Photo

नई दिल्ली/ रसोई पर बढ़ती महंगाई की मार को मध्य नजर रखते हुए केंद्र सरकार ने इस बोझ को कम करने का मानस बनाते हुए रसोई गैस सिलेंडर पर एक बार फिर से सब्सिडी देने का निर्णय लिया है और इस पर कवायद भी शुरू हो गई है संभवत या अगले नए साल से देश की आम जनता को ₹587 में गैस सिलेंडर उपलब्ध हो सकेगा ?

केंद्र सरकार द्वारा कोरोना काल से पहले रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी उपलब्ध करा रही थी लेकिन करोना काल में यह सब्सिडी बंद कर देने से कारण रसोई गैस सिलेंडर के दाम एकदम बढ़ गए थे।

जिसका असर आम जनता पर और रसोई पर पड़ा अब एक बार फिर से केंद्र की मोदी सरकार रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी शुरू करने का मानस बनाया है ।

विश्वस्त सूत्रों के अनुसार केंद्र सरकार नए साल से सब्सिडी वापस शुरू कर सकती है और नए साल जनवरी 2023 से आपके खाते में पहले की तरह ₹300 की सब्सिडी मिलना प्रारंभ हो सकती है।

इससे देश के करोड़ों लोगों को काफी राहत मिलेगी और रसोई गैस सिलेंडर आमजन को ₹587 में ही उपलब्ध हो जाएगा सब्सिडी आम आदमी के सीधे खाते में ही जाएगी।

झारखंड मध्यप्रदेश और पूर्वोत्तर राज्यों में अभी वर्तमान में रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी दी जा रही है इसलिए केंद्र सरकार ने देश के अन्य राज्यों में भी इस सब्सिडी को शुरू करने की योजना बनाई है और एक प्रस्ताव बनाकर वित्त मंत्रालय के पास भेजा है ।

वित्त मंत्रालय से स्वीकृति मिलने के साथ ही सरकार पेट्रोलियम कंपनी के डीलर को ₹303 की सब्सिडी देगी और एलपीजी सिलेंडर पर भी उतना ही छूट मिलेगा जो गैस सिलेंडर लेंगे उसके लिए ₹900 की बजाय ₹587 में भी सिलेंडर पड़ेगा।

सरकार ने कम अपोजिट सिलेंडर को पूरे देश में मंजूरी देती है कंपोजिट्स सिलेंडर की तुलना में 7 किलो वजन हल्का होता है हालांकि घरेलू रसोई गैस सिलेंडर अभी जो उपयोग में लिया जा रहा है उसका वजन 17 किलोग्राम है कम अपोजिट सिलेंडर हल्का जरूर है ।

लेकिन यह काफी मजबूत है इसमें तीन लेयरभी है और यह काफी मजबूत भी है कंपोजिट गैस सिलेंडर का वजन 20 किलो होता है इसमें करीब 10 किलोग्राम गैस होती है जबकि लोहे वाला गैस सिलेंडर का वजन 30 किलोग्राम से अधिक होता है इसलिए इस गैस सिलेंडर की कीमत ₹634 आती है।