NIA के छापे – राजस्थान में बच्चों को आतंकी प्रशिक्षण के संकेत, राजस्थान प्रमुख गिरफ्तार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए राजस्थान, बिहार ,उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, आंध्र प्रदेश ,तेलंगाना सहित करीब 11 राज्यों के 100 स्थानों पर एक साथ सर्च ऑपरेशन कर रही है और अब तक करीब 106 जनों को हिरासत में लिया जा चुका है।

September 22, 2022 5:24 pm
NIA के छापे - राजस्थान में बच्चों को आतंकी प्रशिक्षण के संकेत, राजस्थान प्रमुख गिरफ्तार

नई दिल्ली/जयपुर/ राष्ट्रीय जांच एजेंसी ( NIA ) द्वारा राजस्थान सहित देश के 11 राज्यों में एक साथ पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ( PFI ) के ठिकानों पर चलाए गए सर्च ऑपरेशन में एनआईए को राजस्थान में बच्चों को आतंकी प्रशिक्षण देने के संकेत मिले हैं। जांच एजेंसी ने पूरे देश में ED के साथ मिलकर यह सर्च ऑपरेशन पीएफआई द्वारा आतंकियों को आर्थिक मदद और आतंक का प्रशिक्षण देने तथा देश में दंगे फैलाने के मिले सबूतों के आधार पर शुरू की गई है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए राजस्थान, बिहार ,उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, आंध्र प्रदेश ,तेलंगाना सहित करीब 11 राज्यों के 100 स्थानों पर एक साथ सर्च ऑपरेशन कर रही है और अब तक करीब 106 जनों को हिरासत में लिया जा चुका है।

राजस्थान NIAका क्या लहा आपरेशन

राजस्थान में पीएफआई के प्रमुख आसिफ को एनआईए ने केरल से गिरफ्तार कर लिया तथा उदयपुर के खंजीपीर इलाके मैं रहने वाले दो युवकों मोहम्मद इरफान और मोहम्मद सलीम जो पीएफआई के कार्यकर्ता बताए जाते हैं इनको हिरासत में ले लिया है इसी तरह कोटा के सांगोद में एनआईए ने पूर्व पार्षद के बेटे को हिरासत में लिया है और 12 जिले से सादिक सर आपको हिरासत में लिया गया है तथा राजस्थान की राजधानी जयपुर में लाल कोठी के पास पीएफआई कार्यालय में सर्च किया गया इस सर्च में एनआईए को यहां से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज झंडे और किताबें मिली है जयपुर में अभी भी तीन जगह पर सर्च चल रहा है।

राजस्थान के यह शहर ही NIA के निशाने पर

सूत्रों के अनुसार राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की टीमों की नजरें राजस्थान पर थी और पिछले 2 दिनों से राजस्थान के जयपुर अजमेर कोटा 12 उदयपुर भीलवाड़ा में गुप्त छानबीन चल रही थी लेकिन टीमों ने फिलहाल कोटा 12 और उदयपुर में ही सर्च ऑपरेशन किया है और सूत्रों के अनुसार NIA कभी भी अब राजस्थान के बचे हुए इन जिलों में सर्च ऑपरेशन कर सकती है ? सूत्रों के अनुसार भीलवाड़ा में भी पीएफआई के बड़ी संख्या में सदस्य बताए जाते हैं।

Prev Post

निर्धन, बेसहारा बच्चों की प्रतिभा को विकसित कर उन्हें मुख्य धारा में जोड़ने की पहल

Next Post

भीलवाड़ा के रायपुर में फूड लाइसेंस शिविर आयोजित

Related Post

Latest News

पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन.. 
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज