लव मैरिज करने वाली रिबिका के पति दिलदार अंसारी ने किए इलेक्ट्रिक कटर से 50 टुकड़े

Dildar Ansari, husband of love marriage Ribika, cut 50 pieces with electric cutter

नई दिल्ली/ देश की राजधानी दिल्ली में लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाली हिंदू लड़की श्रद्धा का उसके ही पाटनर प्रेमी आपका द्वारा 32 टुकड़े कर की गई।

हत्या का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा कि ऐसा ही इससे भी अधिक एक क्रूर मामला और सामने आया जहां एक और हिंदू लड़की का उसके ही पति दिलदार अंसारी ने इलेक्ट्रॉनिक कटर से 50 टुकड़े कर जगह-जगह फेंक दिए।

घटना का खुलासा कुत्तों द्वारा उन टुकड़ों को लौटने के बाद हुआ पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है आरोपी पहले से ही शादीशुदा बताया जाता है।

घटना झारखंड के साहिबगंज के डोडा पहाड़ क्षेत्र की है । पुलिस के अनुसार साहिबगंज के डोडा पहाड़ की रहने वाली आदम पहाड़िया जनजाति समुदाय की रिबिका 22 का अपने ही गांव के दिलदार अंसारी से प्रेम प्रसंग चल रहा था और दोनों शादी करना चाहते थे।

लेकिन युवती रिबिका के परिजन इस शादी के खिलाफ थे दोनों शादी से पहले ही साथ साथ रहते थे और 1 माह पहले ही युवती रिबिका अपने लिव-इन रिलेशनशिप पार्टनर प्रेमी दिलदार अंसारी के साथ घर से भागकर थाने में पहुंच गए थे और पुलिस को एक रिपोर्ट देते हुए।

मदद कर शादी की गुहार की थी पुलिस ने की अपनी मौजूदगी में दोनों की शादी कराई थी बताया जाता है कि दिन मार अंसारी पहले से ही शादीशुदा भी था।

का खुलासा तब हुआ जब घर के आस-पास बड़े इंसान के मांस के लौटने कुत्ते कहां रहे थे इसको देखकर लोगों ने पुलिस को सूचना दी और पुलिस ने पहुंचकर उन टुकड़ों को अपने कब्जे में लेकर जांच पड़ताल की तो इसका खुलासा हुआ।

उधर मृतक निधि का के पिता के अनुसार पुलिस और बेटी के पति का फोन आया था वह बोल रहे थे बेटी की हत्या हो गई है लास्ट के सौ टुकड़े किए गये इसके बाद हम थाने पहुंचे

डीआईजी सुदर्शन मंडल के अनुसार लाश के टुकड़े मोहल्ले में मिलने के बाद त्वरित गति से साइबर तकनीकी से की गई जांच पड़ताल के बाद पता चला कि यह टुकड़े युवती रिबिका की हत्था कर उसके टुकड़े कर फेंके गए हैं और इसमें उसके पति दिलदार अंसारी पर शंका होने से उसे बेला टोला से हिरासत में ले लिया गया और उस से की गई।

पूछताछ में उसने यह घटना कार्य करना स्वीकार किया और उसकी निशानदेही पर पुलिस ने आंगनबाड़ी केंद्र से लगभग 300 मीटर दूर मांझी टोला के पास एक बंद पड़े मकान से 100 के कुछ टुकड़े और बरामद की है कुछ टुकड़े फर्श पर बिखरे हुए थे और कुछ टुकड़ों को बोरे में भरकर रखा गया था ।

जहां से रिबिका का शव मिला है वह घर दिलदार अंसारी के मामा का बताया जाता है पूछताछ में दिलदार अंसारी ने बताया कि 16 व 17 दिसंबर की रात को उसने रितिका की गला घोट कर हत्या कर दी थी और फिर इलेक्ट्रॉनिक कटर से रिबिका के 50 टुकड़े कर दिए और कुछ टुकड़ों को उसने अलग-अलग जगह फेंका पुलिस को अब तक रिबिका के 18 टुकड़े मिल चुके हैं।

डीआईजी मंडल के अनुसार दिलदार अंसारी की यह दूसरी शादी थी पहली पत्नी भी उसके साथ ही रहती थी और शादी के बाद से ही घर में झगड़ा हो रहा था और इसी वजह से रिबिका की हत्या की गई । डीआईजी के अनुसार रिबिका के 18 टुकड़ों के साथी वह हथियार भी बरामद कर लिया गया है।

जिसकी जांच कराई जा रही है उस सबसे आश्चर्य में चौंकाने वाली बात यह थी कि रिबिका के पति दिलदार अंसारी ने सनहा(एनसीआर) थाने में रिबिका की गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई थी जबकि उसके हिरासत में आने के बाद खुलासा हुआ कि वारदात में वह और उसका परिवार शामिल था।

परिवार के लोगों को भी हिरासत में लिया गया है और सभी से पूछताछ की जा रही है मृतक युवती के परिजनों ने आशंका जताई है कि वह उनको और उनके घर वालों को भी मार देंगे यह हमें डर है पुलिस ने साहिबगंज में और पीड़ित परिवार के घर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है।