आमजन को केन्द्र सरकार का नये साल का तोहफा, छोटी बचत योजनाओं पर बढाई ब्याज दरें

Congress again on the streets against price hike
Demo Photo

नई दिल्ली/ केंद्र सरकार ने देशवासियों को नए साल का उपहार दिया है। सरकार ने राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC), पोस्ट ऑफिस टर्म डिपॉजिट, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (वरिष्ठ नागरिक बचत योजना) पर मिलने वाले ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। हालांकि, पीपीएफ की ब्याज दरों में किसी भी तरह का बदलाव नहीं किया गया है। नई ब्याज दरें नये साल से ही लागू हो गई है ।

वित्त मंत्रालय के नोटिफिकेशन के अनुसार, 1 जनवरी से 31 मार्च तक वित्त वर्ष 2022-23 की चौथी तिमाही के लिए कुछ बचत स्कीम पर ब्याज दरों में 0.20 से 1.10 फीसदी तक की बढ़ोतरी की गई है।

1 जनवरी 2023 से एक से पांच साल की अवधि की पोस्ट ऑफिस टर्म डिपॉजिट स्कीम्स पर ब्याज दरें से 1.1 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगी। मासिक आय योजना में भी ब्याज दर 6.7 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.1 प्रतिशत कर दी गई है। केंद्र सरकार की ओर से छोटी जमा बचत योजनाओं की ब्याज दरों में यह बढोत्तरी जनवरी से मार्च तिमाही के लिए की गई है ।

इन योजनाओं की ब्याज दरों में बढोत्तरी

केंद्र सरकार ने पोस्ट ऑफिस की 1 से 5 वर्ष की डिपॉजिट पर मिलने वाली ब्याज दरों में भी बढ़ोतरी की है। इसके अलावा सीनियर सिटीजन स्कीम, मंथली इनकम स्कीम, राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र के लिए भी ब्याज दर को बढ़ा दिया है।

कितनी बढ़ी हैं ब्याज दरें

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) पर 1 जनवरी से 7 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा, जबकि अभी यह 6.8 फीसदी है। इसी तरह, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में निवेश पर 1 जनवरी से 8 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा, फिलहाल ये 7.6 फीसदी है।

सरकार ने पोस्ट ऑफिस की एक साल की सेविंग्स स्कीम ( बचत योजना) पर ब्याज दरों को बढ़ाकर 6.6% कर दिया है जो पहले 5.5 प्रतिशत थी। जबकि 2 साल की स्कीम (बचत योजना)पर 6.8% की दर से ब्याज मिलेगा, जो पहले 5.7 प्रतिशत था। 3 साल की स्कीम पर ब्याज दर बढ़कर 6.9% कर दी गई है, जो पहले 5.8 प्रतिशत थी। वहीं, पांच साल की स्कीम ( बचत योजना) पर 7% की दर से ब्याज मिलेगा, यह पहले 6.7 प्रतिशत था।

किसान विकास पत्र के ब्याज दर में भी..

किसान विकास पत्र के ब्याज दर में सरकार ने इजाफा किया है। 123 महीने के लिए किसान विकास पत्र पर दिसंबर तिमाही में 7% का ब्याज दर मिल रहा था जो अब 123 महीने की अवधि पर 7.2% फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा।

PPF, SSY की ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं

सरकार ने सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) और सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) जैसी छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों को जनवरी-मार्च तिमाही के लिए संशोधित नहीं किया गया है। PPF को दिसंबर तिमाही की तरह मार्च तिमाही में भी 7.1% के लेवल पर बरकरार है, साथ ही बेटियों के लिए शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना पर भी ब्याज दर को 7.6 प्रतिशत पर यथावत रखा गया है।