2024 लोकसभा चुनाव – भाजपा 1955 के बाद जन्म लेने वालों को ही टिकट देगी,25% होंगे दौड से बाहर

सांसदों को कार्य विभाजन तथा चुनाव में आयोग की सीमा तय है कर दी गई है अब भाजपा सन 1955 के बाद जन्म लेने वाले पार्टी के नेताओं को ही सांसद का टिकट देगी

May 31, 2022 12:59 pm
2024 लोकसभा चुनाव -- भाजपा 1955 के बाद जन्म लेने वालों को ही टिकट देगी,25% होंगे दौड से बाहर

नई दिल्ली/ लोकसभा चुनाव को अभी 2 साल बाकी है लेकिन भाजपा ने 2024 होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर अभी से तैयारियां शुरू कर दी है और इसको लेकर रणनीति बनाने के साथ ही सांसदों को कार्य विभाजन तथा चुनाव में आयोग की सीमा तय है कर दी गई है अब भाजपा सन 1955 के बाद जन्म लेने वाले पार्टी के नेताओं को ही सांसद का टिकट देगी टिकट वितरण और जिम्मेदारी के साथ कई निर्णय पार्टी ने लिए हैं ।

2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में आज आप अपनी हैट्रिक बनाने और तीसरी पारी खेलने के लिए अभी से ही रणनीति बनाना प्रारंभ कर दिया है भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में उनके आवास पर कुछ चुनिंदा कैबिनेट मंत्रियों पार्टी के प्रभारियों और सांसदों की एक बैठक आहूत की गई इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

बैठक में और पार्टी के उच्च स्तर पर इस बात को लेकर सहमति बनी है कि ऐसे मौजूदा सांसद जिनका जन्म 1955 के बाद वह है उन्हीं 2024 लोकसभा का टिकट दिया जाएगा इससे पहले जन्मे नेताओं को टिकट नहीं मिलेगा अर्थात 70 साल की आयु पार कर चुके नेताओं को टिकट नहीं दिया जाएगा केवल एक दो अपवाद ओं में ही इस नियम में छूट मिलेगी यह नियम लागू होता है तो भाजपा के मौजूदा 301 सांसदों में से 81 सांसदों के टिकट कट सकते हैं पार्टी का मानना है कि मैं लोगों को दी मौका मिलना चाहिए जब पुराने कार्यकर्ता नए लोगों को रास्ता देंगे बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि हर सांसद कोसो भूत और विधायकों को 25 ऐसे पूछ जहां पार्टी कमजोर है उनकी जिम्मेदारी दी जाएगी।

भाजपा ने देशभर में करीब 74000 से अधिक कमजोर भूतों का चयन किया है जा संगठन पूरी तरह से कमजोर है इन भूतों को मजबूत करने की जिम्मेदारी विधायक और सांसदों को दी गई है यहां पर विधायक और सांसद स्थानीय स्तर पर संघ की स्थानीय प्रचारकों के साथ संबंध में कर बूथ मजबूत करने का काम करेंगे।

17 वी लोकसभा में भाजपा के लगभग 25% सांसद 2024 के लोकसभा चुनाव तक 70 से अधिक उम्र पार कर जाएंगे 1955 से पहले जन्मे मौजूदा सांसदों में सबसे अधिक यूपी से 12 कर्नाटक से नो गुजरात से 10 महाराष्ट्र से 5 झारखंड से दो बिहार से छह मध्य प्रदेश से पांच और राजस्थान से पांच हैं।

हेमा मालिनी मथुरा सदानंद गौड़ा बेंगलुरु रावसाहेब दानवे जालना वीके सिंह गाजियाबाद अश्विनी चौबे बक्सर एसएस आहलूवालिया वर्धमान रीता बहुगुणा जोशी इलाहाबाद रतन लाल कटारिया अंबाला किरण खेर चंडीगढ़ अर्जुन राम मेघवाल बीकानेर श्रीपद नायक गोवा सीआर पाटील नवसारी रवी शंकर प्रसाद पटना साहिब राव इंद्रजीत सिंह गुड़गांव गिरिराज सिंह बेगूसराय राधा मोहन सिंह पूर्वी चंपारण आरके सिंह आरा सत्यपाल सिंह बागपत इस नए नियम के दायरे में आ जाएंगे

Prev Post

राजस्थान में अब भ्रष्टाचार के आरोपों पर ACB बिना अनुमति नही कर सकेगी पूछताछ

Next Post

गहलोत के लिए साख का सवाल बने राज्यसभा चुनाव, तीनों प्रत्याशियों को जिताने मिला टास्क

Related Post

Latest News

राजस्थान में बड़ा सियासी घटनाक्रम, गहलोत समर्थक 92 विधायकों ने दिया इस्तीफा 
बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

राजस्थान में बड़ा सियासी घटनाक्रम, गहलोत समर्थक 92 विधायकों ने दिया इस्तीफा 
बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
उपराष्ट्रपति कल राजस्थान के बीकानेर दौरे पर
नवरात्रा 26 से, घट स्थापना का मुहूर्त कब-कब और कैसे करें जानें 
PFI को खाड़ी देशों से मदद, Ed ने 120 करोड़ रुपए किए जब्त,PM पर हमले की थी साजिश
अंकिता हत्याकांड - भाजपा के नेता व पूर्व मंत्री के बेटे के रिसोर्ट पर चला बुलडोजर नेता पार्टी से निलंबित 
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन आज से शुरू, 30 सितम्बर है आखिरी तारीख
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा