How to take Personal Loan and Prdhanmantri Mudra Loan
देश

पर्यटन और धार्मिक स्थलों पर बच्चो के भीख मांगने पर सख्ती से लगेगी रोक

भोपाल/ पर्यटन स्थल और धार्मिक स्थलों पर भीख मांगने वालों का जमावड़ा लगा रहता है और इन में अक्सर बच्चों की संख्या अधिक होती है यह आने जाने वाले पर्यटकों और श्रद्धालुओं से भीख मांगते हैं और कभी-कभी यहां तक की है उनके पीछे तब पड़ जाते हैं और जब तक भी नहीं मिलती तब तक पीछा नहीं छोड़ते इससे पर्यटक और श्रद्धालु कई बार काफी हद तक परेशान हो जाते हैं इस परेशानी से निजात पाने के लिए परदेस सरकार ने प्रदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों पर स्थल पर बच्चों के द्वारा भीख मांगे जाने पर सख्ती से रोक लगाने का निर्णय लिया है।

 

प्रदेश की धार्मिक और पर्यटन नगरी ओंकारेश्वर, उज्जैन, महेश्वर सहित अन्य में बच्चों को भीख मांगने पर सख्ती से रोक लगाई जाएगी। इसके लिए इन नगरों में सतर्कता दल गठित किए जाएंगे, जो भीख मांगने वाले बच्चों की काउंसलिंग और उन्हें इस दलदल से बाहर निकालने में मदद करेंगे। इस दौरान यह भी देखा जाएगा कि बच्चे किसी मजबूरी में तो भीख नहीं मांग रहे हैं। इसमें जिला विधिक प्राधिकरण की मदद भी ली जाएगी। इतना ही नहीं, जिले के अधिकारियों को ‘माइ डिस्ट्रिक इज क्लीन आफ स्ट्रीट चाइल्ड” लिखकर देना होगा।

प्रदेश के धार्मिक और पर्यटन नगरों में भिखारी बड़ी संख्या में हैं। लगभग हर मंदिर या प्रसिद्ध स्थल के बाहर भिखारी मिल जाएंगे। इनमें बच्चों की संख्या ज्यादा होती है। महिला एवं बाल विकास विभाग ने संबंधित जिलों में जिला कार्यक्रम अधिकारी और संयुक्त संचालकों को ऐसे नगरों में भीख मांगने वाले बच्चों को खोजने की जिम्मेदारी सौंपी है।

इस संबंध में विभाग के अपर मुख्य सचिव अशोक शाह ने हाल ही में आयोजित वीडियो कान्फ्रेंस में मैदानी अधिकारियों को भीख मांगने वाले बच्चों की तलाश करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने जिम्मेदार अधिकारियों से लिखित में मांगा है कि उनके जिले में भीख मांगने वाले बच्चे नहीं हैं। अधिकारी अब अपने स्तर पर दल गठित कर भीख मांगने वाले बच्चों तक पहुंचेंगे। उनकी मजबूरी देखेंगे और रिपोर्ट विभाग को सौंपेंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर सरकार ऐसे बच्चों को लेकर निर्णय लेगी।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम