बिग बास्केट की 60 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी खरीदेगा टाटा समूह

मुंबई। टाटा समूह अलीबाबा द्वारा संचालित ऑनलाइन किराना विक्रेता बिग बास्केट में 60 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी खरीदने की तैयारी में है। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) को दी गयी सूचना के अनुसार टाटा समूह बिग बास्केट में 64.3 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की योजना बना रही है। अलीबाबा एक चीनी कंपनी है, जो भारत में आनलाइन किराना मार्केट बिग बास्केट को संचालित करती है।

प्रस्तावित सौदे के तहत टाटा संस की यूनिट टाटा डिजिटल लि. (टीडीएल) बिग बास्केट के 64.3 प्रतिशत शेयरों का अधिग्रहण करेगी। सूचना के अनुसार प्रस्तावित सौदे से टीडीएल बिग बास्केट में बहुलांश हिस्सेदारी का अधिग्रहण कर इसका नियंत्रण हासिल करेगी। हालांकि, निश्चित सीमा से अधिक के सौदे के लिए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग से मंजूरी लेने की जरूरत होती है।

यदि यह सौदा मंजूर हो जाता है तो टाटा समूह अमेजन, फ्लिपकार्ट के साथ सीधे मुकाबले में होगा। इसके अलावा रिलायंस इंडस्ट्रीज की ग्रॉसरी सर्विस जियो मार्ट से भी सीधी प्रतिस्पर्धा होने की उम्मीद है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टाटा समूह का उद्देश्य बिग बास्केट के 60% से अधिक हिस्सेदारी पर नियंत्रण रखना है। बिग बास्केट के प्रतिद्वंद्वियों की तरफ से ई-किराना कारोबार पर भारी खर्च करने की उम्मीद है।

फ्लिपकार्ट ने भी देश के कई शहरों में विस्तार करने की योजना की घोषणा की है, जबकि रिलायंस की डिजिटल यूनिट जियो मार्ट ने अपनी ग्रॉसरी सेवा को प्रोत्साहित करने के लिए फेसबुक और अल्फाबेट के गूगल समेत कई निवेशकों से 20 बिलियन डॉलर से ज्यादा जुटाए हैं।