अवैध संबंध होने के शक में पति ने कर पत्नी की हत्या, गिरफ्तार

नई दिल्ली। द्वारका जिले के छावला इलाके में हुई महिला की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में महिला के पति को ही गिरफ्तार किया है। पति ने खुलासा किया है कि अवैध संबंध होने के शक में उसने पत्नी की हत्या की है। आरोपित …

अवैध संबंध होने के शक में पति ने कर पत्नी की हत्या, गिरफ्तार Read More »

January 15, 2021 3:52 pm

नई दिल्ली। द्वारका जिले के छावला इलाके में हुई महिला की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में महिला के पति को ही गिरफ्तार किया है। पति ने खुलासा किया है कि अवैध संबंध होने के शक में उसने पत्नी की हत्या की है। आरोपित के साथ महिला की दूसरी शादी थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। डीसीपी शंकर चौधरी ने बताया कि चार जनवरी की शाम छावला इलाके से 35 साल की महिला की लाश मिली थी। जिसकी गला रेतकर हत्या की गयी थी। महिला के पास से ऐसा कुछ भी नहीं मिला, जिससे उसकी पहचान की जा सके। एसएचओ ज्ञानेन्द्र राणा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने जांच शुरू की। पुलिस ने इलाके के व्हाट्सऐप ग्रूप पर महिला के फोटो को डालकर उसकी पहचान करने की कोशिश की। साथ ही पुलिस दिल्ली के सभी थानों को सूचित करने के साथ साथ गुरुग्राम और झज्जर के थानों में महिला का फोटो भेजकर उसकी पहचान करने की कोशिश की।

हवलदार रामअवतार की टीम महिला का फोटो लेकर बाहरी दिल्ली इलाके में पहुंची। जहां काफी तलाश के बाद पता चला कि महिला बलजीत विहार से गायब है और अमन विहार थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज है। पुलिस जांच करते हुए उसके घर पहुंची। जहां महिला का 10 साल का बेटा शिवम और परिचित चंदन मिला। जिसने बताया कि महिला का नाम सरस्वती है। जांच में पता चला कि उसका पति सोहन चौरसिया गायब है। पहचान होने के बाद पुलिस ने महिला का पोस्टपार्टम कराकर उसके शव को परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने सरस्वती और उसके पति का फोन की जांच की। जांच में पता चला कि घटना के दिन दोनों फोन का लोकेशन घटनास्थल पर था। हत्या का शक पति पर होने के बाद पुलिस सोहन की तलाश शुरू की। पुलिस ने एक सूचना पर सोहन को निठारी रोड से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने बताया कि वह बिहार के समस्तीपुर का रहने वाला है। 18 साल की उम्र में वह दिल्ली आया और मजदूरी करने लगा।

आटा फैक्टरी में काम करने के दौरान उसकी मुलाकात सरस्वती से हुई। उसका एक बेटा शिवम था। उसके पति ने उसे छोड़ दिया था। दोनों एक दूसरे के नजदीक आये और शादी कर ली। उसका एक बेटा करण हुआ। उसके बाद वह ड्राइवरी करने लगा। सरस्वती ने मदद के लिए बिहार के रहने वाले चंदन को अपने साथ रख लिया। पिछले दो साल से वह परिवार के साथ रहता था। उसे अपनी पत्नी का चंदन के साथ संबंध होने का शक था। तीन जनवरी को वह पत्नी को अपने साथ कार से मार्केट जाने के बहाने कार से ले गया और उसकी प्लास्टिक रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी और बाद में उसका गला रेतकर शव को खेत में फेंक दिया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से पीडि़ता का मोबाइल फोन, रस्सी, चाकू और वारदात में इस्तेमाल कार बरामद कर ली।

Prev Post

जहाजपुर निकाय चुनाव:188 जनों के नामांकन हुए दाखिल, सबसे कम वार्ड नंबर 5 सबसे ज्यादा 25 मे

Next Post

लोक परिवहन सेवा की बस,तीन जनों के लिए 'परलोक' बनी

Related Post

Latest News

बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

बजरी ट्रक ऑपरेटरों यूनियन की सोहेला मिर्च मण्डी मे बैठक का आयोजन 
Rajasthan : कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, आलाकमान पर छोड़ा जा सकता है मुख्यमंत्री चयन का फैसला
भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
उपराष्ट्रपति कल राजस्थान के बीकानेर दौरे पर
नवरात्रा 26 से, घट स्थापना का मुहूर्त कब-कब और कैसे करें जानें 
PFI को खाड़ी देशों से मदद, Ed ने 120 करोड़ रुपए किए जब्त,PM पर हमले की थी साजिश
अंकिता हत्याकांड - भाजपा के नेता व पूर्व मंत्री के बेटे के रिसोर्ट पर चला बुलडोजर नेता पार्टी से निलंबित 
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन आज से शुरू, 30 सितम्बर है आखिरी तारीख
कांग्रेस में 'एक व्यक्ति एक पद' का सिद्धांत फॉर्मूला, एक दर्जन नेताओं को देना पड़ेगा इस्तीफा
मुख्यमंत्री कौन होगा काउंट डाउन शुरू : सचिन पायलट सहित ये प्रमुख नाम