आतंकी हमले के साथ ही ट्रैक्टर रैली से निपटने को तैयार है दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली । गणतंत्र दिवस परेड के लिए अब केवल एक सप्ताह रह गया हैं। ऐसे में एक तरफ जहां आतंकी हमले से निपटने को लेकर तो वहीं दूसरी तरफ ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए पुलिस अपनी पूरी तैयारी कर चुकी है। इसके लिए दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में अलकायदा व खालिस्तान से जुड़े …

आतंकी हमले के साथ ही ट्रैक्टर रैली से निपटने को तैयार है दिल्ली पुलिस Read More »

January 19, 2021 1:09 pm

नई दिल्ली । गणतंत्र दिवस परेड के लिए अब केवल एक सप्ताह रह गया हैं। ऐसे में एक तरफ जहां आतंकी हमले से निपटने को लेकर तो वहीं दूसरी तरफ ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए पुलिस अपनी पूरी तैयारी कर चुकी है। इसके लिए दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में अलकायदा व खालिस्तान से जुड़े आतंकियों के पोस्टर चिपकाए गए हैं। वहीं किसान संगठन से बातचीत के अलावा बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता किया गया है।

जानकारी के अनुसार, आगामी मंगलवार को राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड निकाली जाएगी। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार केवल 25 हजार लोग ही कार्यक्रम में शामिल हो पायेंगे। इस बार समारोह में आम जनता दर्शक नहीं बन सकेगी। इसके साथ ही परेड को भी पहले से छोटा कर दिया गया है।

परेड पर आतंकी हमले का खतरा

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, इस समारोह की सुरक्षा पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है। एक तरफ किसान ट्रैक्टर रैली की बात कह रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ आतंकी हमले का भी खतरा हमेशा ऐसे समारोह पर रहता है। पुलिस ने इसे ध्यान में रखते हुए सुरक्षा का मजबूत घेरा बना रही है।

आतंकियों के पोस्टर चस्पा, धारा 144 लागू

वहीं आतंकी हमले से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस की तरफ से अलकायदा व खालिस्तान के दर्जन भर से ज्यादा आतंकियों के पोस्टर नई दिल्ली इलाके में चस्पा किये गए हैं। इसके द्वारा लोगों से अपील की गई है कि अगर इन लोगों को देखें तो तुरंत पुलिस को सूचना दे। समारोह स्थल पर विशेष कैमरे लगाए जा रहे हैं, जो किसी भी संदिग्ध को देखते ही इसकी जानकारी सीधा कंट्रोल रूम को देंगे।

पुलिस ने चेकिंग की शुरू

पुलिस ने साइबर कैफे, होटल, गेस्ट हाउस, किरायेदार आदि के सत्यापन भी तेजी से कर रही है। इसके अलावा हवाई हमले को ध्यान में रखते हुए इस इलाके में किसी भी उड़ने वाली वस्तु पर रोक लगाई गई है। इसे लेकर पुलिस कमिश्नर की तरफ से धारा 144 लगाई गई है और उल्लंघन करने वालों पर आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

बॉर्डरों पर अलर्ट पुलिस

किसान संगठन द्वारा गणतंत्र दिवस के मौके पर परेड के सामने ट्रैक्टर रैली निकालने की बात कही गई थी। वहीं पुलिस का साफ कहना है कि किसी भी हालत में ट्रैक्टर रैली नहीं निकालने दी जाएगी। इसे लेकर पुलिस पहले किसान संगठनों से बातचीत कर रही है। उन्हें उम्मीद है कि बातचीत के जरिये हल निकल जायेगा, लेकिन अगर किसान अड़े रहे, तो उन्हें पुलिस बॉर्डर पर ही रोकेगी। वहां से उन्हें नई दिल्ली के इलाके में नहीं पहुंचने दिया जाएगा।

Prev Post

एक बार फिर शीत लहर आने वाली है , 22 जनवरी की शाम से 25 जनवरी की शाम तक

Next Post

'तांडव' के निर्देशक अली अब्बास जफर पर जमकर बरसी कंगना रनौत

Related Post

Latest News

सोनिया गांधी को आज लिखित रिपोर्ट सौंपेंगे अजय माकन, गहलोत के सिपहसालारों पर कार्रवाई संभव 
राजस्थान का अगला पायलट होंगे डाॅ जोशी ? सचिन नहीं, आलाकमान झुकेगा या 70 साल पहले का इतिहास दोहराया जा सकता, पढ़े खबर

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

सोनिया गांधी को आज लिखित रिपोर्ट सौंपेंगे अजय माकन, गहलोत के सिपहसालारों पर कार्रवाई संभव 
गहलोत सरकार के मंत्री शांति धारीवाल का बड़ा आरोप, गहलोत को हटाने का षड्यंत्र रच रहे थे माकन, सबूत पेश कर दूंगा
ACB का धमाका - PHED का चीफ इंजीनियर और दलाल 10 लाख रिश्वत लेते गिरफ्तार
जी 6 के विधायकों का गहलोत कैंप पर तीखा हमला, कहा- 'आलाकमान को आंख दिखाने वालों पर हो कार्रवाई'
मंत्री धारीवाल ने माकन के वक्तव्य पर किया पलटवार, माकन और आलाकमान को किया कटघरे में खड़ा
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए आ सकता है नया नाम, कौन, जानें पढ़े ख़बर 
राजस्थान का अगला पायलट होंगे डाॅ जोशी ? सचिन नहीं, आलाकमान झुकेगा या 70 साल पहले का इतिहास दोहराया जा सकता, पढ़े खबर
टोंक के पचेवर ग्राम विकास अधिकरी 15 हज़ार रुपए लेते ट्रेप,पीएम आवास योजना की दूसरी किश्त जारी करने की एवज में मांग रहा था 20 हज़ार की घुस,
राजस्थान कांग्रेस में घमासान-अब गहलोत पर सकंट, ऑब्जर्वर लौटे, गहलोत व सचिन तलब,आलाकमान गहलोत से नाराज