आशाराम बापू के पुत्र दुष्कर्म के आरोपी नारायण साईं की बैरक के पास मिला मोबाइल, हाइटेक जेल विवादों में

अहमदाबाद/ सूरत की लाजपोर जेल में सजा काट रहे आरोपित नारायण साईं की बैरक के पास से संदिग्ध अवस्था में एक मोबाइल फोन मिला है। इसके बाद सचिन थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। आरोपित नारायण साईं एक साध्वी से दुष्कर्म के मामले में जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है। नारायण साईं …

आशाराम बापू के पुत्र दुष्कर्म के आरोपी नारायण साईं की बैरक के पास मिला मोबाइल, हाइटेक जेल विवादों में Read More »

October 24, 2020 3:34 pm

अहमदाबाद/ सूरत की लाजपोर जेल में सजा काट रहे आरोपित नारायण साईं की बैरक के पास से संदिग्ध अवस्था में एक मोबाइल फोन मिला है। इसके बाद सचिन थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। आरोपित नारायण साईं एक साध्वी से दुष्कर्म के मामले में जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है। नारायण साईं को दूसरी बैरक आवंटित की गयी थी, लेकिन वह बैरक में चार कैदियों के साथ संदिग्ध रूप से मौजूद पाया गया, जहां पर मोबाइल फोन पाया गया।


गुजरात की सबसे हाईटेक जेल फिर से विवादों में आ गई है। गंभीर अपराधों में लिप्त अभियुक्तों को यहां रखा जाता है, लेकिन इस जेल को मोबाइल की दुकान भी कहा जा सकता है क्योंकि यहां पर अक्सर मोबाइल फोन पाए जाते हैं। पुलिस को जांच के दौरान नारायण सैनी के बैरक से पास से एक मोबाइल फोन मिला। इसको लेकर नारायण साईं सहित पांच आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।
जेल अधीक्षक मनोज निनामा ने बताया कि ए/ 2, बैरक नंबर तीन में कैदी मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं। जेलों में मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध के बावजूद मंगलवार को जेलों में मोबाइल फोन के प्रयोग की खबरें आने के बाद निगरानी रखी गई। इसके बाद नारायण उर्फ ​​नारायण साईं आसुमल हरपलानी, मुश्ताक असलम परमार, परेश उर्फ ​​पंच जोगड़िया, तारिक कुतुबुद्दीन सैय्यद और नवीन दल दोपहर 3.30 बजे के आसपास इलाके में पाए गए।


लाजपोर जेल के एक सरप्राइज़ दस्ते ने 20 अक्टूबर को दोपहर को यार्ड नंबर-ए -2 के बैरक की जांच की। चेकिंग से संदिग्ध हरकतें सामने आईं। दोनों बैरकों के बीच कॉमन टॉयलेट के अंदर बने शौचालय के दरवाजे के पास एक मोबाइल मिला। यह मोबाइल बिना सिम और बैटरीयुक्त ढक्कन वाला था।
सचिन पुलिस स्टेशन ने नारायण साईं सहित पांच लोगों के खिलाफ गैर कानूनी तरीके से कैदी अधिनियम 3, 4 और 5 (12) के तहत मोबाइल फोन लाने और उपयोग करने के लिए मामला दर्ज किया है। जेल अधिकारियों ने पुलिस को एफएसएल को फोन भेजने के लिए लिखा था ताकि पता लगाया जा सके कि इस मोबाइल फोन पर किसने, किससे बात की।

Prev Post

करीना ने सैफ संग शेयर की थ्रोबैक रोमांटिक तस्वीर, बोली-मेरा प्यार और मैं एक्रोपोलिस पर

Next Post

प्रशासनिक उदासीनता के कारण सड़ रहे हैं शहर के ऐतिहासिक तालाब,डस्टविन बन चुके हैं प्राचीन कुएं-बावड़ियां

Related Post

Latest News

पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज
बीसलपुर की लाइन टूटी, 15 दिन बाद भी नही हुई ठीक

Trending News

वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी

Top News

टोंक शांति एवं सद्भावना समिति की बैठक आयोजित
जयपुर को मिली एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की मेजबानी, अमित शाह करेंगे उद्घाटन सत्र में शिरकत
विजयादशमी पर  जयपुर में 29 स्थानों पर संघ का पथ संचलन, शस्त्र पूजन व शारीरिक प्रदर्शन भी होंगे
वसुंधरा राजे के बाद अब सतीश पूनिया ने भी की भी त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में पूजा-अर्चना
टोंक जिला स्तरीय राजीव गांधी युवा मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित%%page%% %%sep%% %%sitename%%
Upload state insurance and GPF passbook in new version of SIPF
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से सुमन, रिजवाना बानो एवं दिनेश को मिली राहत
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज
बीसलपुर की लाइन टूटी, 15 दिन बाद भी नही हुई ठीक