9 महीने में 128 नक्सलियों का आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा, (हि.स.)। जिले में विगत पांच साल में जितने नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया, उससे कहीं अधिक इस वर्ष नौ महीने में नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया। जनवरी 2020 से सितम्बर तक कुल 128 नक्सली हिंसा का रास्ता छोड़कर समाज की मुख्यधारा में लौट आए हैं। जबकि इससे पहले विगत 05 वषोंं में कुल 116 नक्सलियों ने …

9 महीने में 128 नक्सलियों का आत्मसमर्पण Read More »

October 3, 2020 11:48 am

दंतेवाड़ा, (हि.स.)। जिले में विगत पांच साल में जितने नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया, उससे कहीं अधिक इस वर्ष नौ महीने में नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया। जनवरी 2020 से सितम्बर तक कुल 128 नक्सली हिंसा का रास्ता छोड़कर समाज की मुख्यधारा में लौट आए हैं। जबकि इससे पहले विगत 05 वषोंं में कुल 116 नक्सलियों ने ही आत्मसमर्पण किया था।

पुलिस महानिरिक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि दंतेवाड़ा पुलिस द्वारा चलाया गया लोन वर्राटू अभियान सबसे ज्यादा कारगर साहिब हुआ है। इस अभियान के शुरू होने के बाद से विगत तीन महीने में 109 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया।नक्सलवाद के साथ जुड़कर हिंसा के रास्ते पर चल पड़े दंतेवाड़ा के ग्रामीण युवाओं का अब नक्सलवाद से मोह भंग हो रहा है।

उल्लेखनीय है कि बस्तर संभाग के नक्सल प्रभावित जिलों में बीजापुर और सुकमा जिला सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित माना जाता है। यहां इन दिनों नक्सलियों के द्वारा हत्या का अनवरत सिलसिला जारी है। वहीं नक्सलियों के मध्य फूट पड़ने की भी खबर आ रही है, जिसके चलते नक्सलियों ने अपने ही आठ लाख के इनामी नक्सली कमांडर मोड़यामी विच्चा की गोली मारकर हत्या कर दी। दूसरी ओर नारायणपुर जिले में भी आत्मसमर्पण कम हुए हैं। कोंड़ागांव और कांकेर जिला भी इसमें पीछे हैं। सबसे कम नक्सल प्रभावित बस्तर जिला माना जाता है, जहां यदा-कदा नक्सली वारदात देखने को मिलती है।

बस्तर रेंज के पुलिस महानिरिक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि हिंसा का रास्ता छोड़कर इस वर्ष 2020 में सबसे अधिक नक्सलियों की घर वापसी हुई है। समाज की मुख्यधारा में वापस लौटे आत्मसर्मपित नक्सलियों में 8 लाख के इनामी कोसा मरकाम, मल्ला, लक्ष्मण, नंदा और साधु शामिल हैं। इन सभी का अब कहना है कि नक्सली दबाव व बहकावे में आकर वे भटक गए थे।

Prev Post

आज पेट्रोल-डीजल की कीमत में नहीं हुआ कोई बदलाव, जानिए क्‍या है भाव

Next Post

Reliance Retail में ए‍क अरब डॉलर का निवेश करेगी जीआईसी और टीपीजी

Related Post

Latest News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन..