68 छात्र कोरोना संक्रमित, छात्रावास बंद,परीक्षाएं स्थगित

विशाखापत्तनम। विशाखापत्तनम (Visakhapatnam) स्थित आंध्र विश्वविद्यालय (Andhra University) में आज सुबह कोरोना वायरस (Corona virus) के मामले प्रकाश में आने से हड़कंप मच गया। विश्वविद्यालय के छात्रावासों(Hostels) में जांच के दौरान 68 छात्रों को कोरोना संक्रमित पाया गया। छात्रों में कोरोना संक्रमण के कारण शनिवार को होने वाली बीई, बी.टेक (BE, B.Tech) और बी.फार्मा (B. Pharma) की परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं।

 

 

 

विश्वविद्यालय के कुलपति की अध्यक्षता में हुई आपातकालीन बैठक में विश्वविद्यालय के सारे छात्रावासों को बंद करने का भी निर्णय लिया गया है। इस बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अल्ला नानी ने आंध्र यूनिवर्सिटी में कोरोना मामलों की जानकारी ली।

 

उन्होंने विशाखापत्तनम के जिला चिकित्सा अधिकारी से बात की और अधिकारियों को छात्रों को बेहतर चिकित्सा उपलब्ध करवाने और शहर में वायरस पर अंकुश लगाने के लिए कदम उठाने का आदेश दिया।

जिलाधीश विनय चंद, क्षेत्रीय कोविड नोडल अधिकारी डॉ. पीवी सुधाकर, जिला चिकित्सा अधिकारी सूर्यनारायण सहित अधिकारियों के एक दल ने शनिवार को छात्रावासों का दौरा किया। जिलाधीश ने बताया कि छात्रावासों में ही वहां के छात्रों के लिए परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। संक्रमित छात्रों में से किसी में भी गंभीर लक्षण नहीं है। उन सभी को विश्वविद्यालय की ही एक अलग इमारत में रखा गया है और उपचार किया जा रहा है।

जिलाधीश ने कहा कि छात्रावासों में एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में वायरस के तेजी से फैलने की आशंका हो सकती है। इंजीनियरिंग लड़कों और लड़कियों के छात्रावासों में भी आइसोलेशन कमरे खोले गए हैं और वहां सरकारी डॉक्टर की निगरानी में इलाज होगा। ऐसे छात्रों के माता-पिता को सूचित किया गया है।

हालांकि किसी को भी चिंता करने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय ने आसपास के क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन के रूप में घोषित किया है और उसके अनुसार कदम उठाए जाएंगे। जिलाधीश ने यह भी बताया कि जीवीएमसी अधिकारियों ने स्वच्छता की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

News Topic : Visakhapatnam,Andhra University,Corona virus,Hostels,BE, B.Tech,B. Pharma