दिल्ली देश

इस प्रदेश में 6 हजार से अधिक मदरसे गैर मान्यता प्राप्त निकले

नई दिल्ली/ देश के एक राज्य में राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में कराए जा रहे मदरसों के सर्वे में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है और अब तक करीब 6000 से अधिक मदरसे गैर मान्यता प्राप्त अर्थात बिना मान्यता के संचालित हो रहे हैं सरकार द्वारा बिना मान्यता के संचालित हो रहे मदरसन के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जा सकती है ?

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा परदेस में चल रहे मदरसों जानकारी के लिए सर्वे कराया जा रहा है और इस सर्वे की अंतिम समय सीमा 20 अक्टूबर निर्धारित की गई है।

इस सर्वे के पीछे सरकार का कहना है कि यह सर्वे मुस्लिम बच्चों की शिक्षा के लिए सुधार को देखते हुए कराया जा रहा है और अब तक हुए सर्वे में उत्तर प्रदेश में करीब 6400 से अधिक मदरसे गैर मान्यता प्राप्त पाए गए हैं 20 अक्टूबर को सर्वे समाप्त होने के बाद प्रदेश में मान्यता प्राप्त और गैर मान्यता प्राप्त मदरसों की वास्तविक संख्या सामने आएगी।

लेकिन अभी तक हुए करीब 80% सर्वे में 6000 से भी अधिक मदरसों के गैर मान्यता प्राप्त निकलने से सभी को चौंका दिया है।

सर्वे पूरा होने के बाद सरकार यह जांच पड़ताल करेगी कि इन मदरसों को आर्थिक मदद कहां से मिल रही है कैसे मिल रही है और इनमें पढ़ने वाले बच्चों की संख्या क्या है ।

मदरसों की देखरेख रखाव कौन कर रहा है कैसे हो रही है ऐसे कई सारे सवाल है जिन पर जांच पड़ताल और मंथन होगा

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम